Breaking News

लाइसेंस रद्द होने के बावजूद ऑपरेशन कर रहा था डॉक्टर: सिविल सर्जन ने जब्त किया रिकॉर्ड

अमृतसर,5 अप्रैल: एल्टेक अस्पताल के एमडी डॉक्टर प्रवीण देवगन लाइसेंस रद्द होने के बावजूद ऑपरेशन कर रहे थे। जिसकी शिकायत मिलने के बाद आज सहायक सिविल सर्जन ने रिकॉर्ड को जब्त कर लिया और हायर अथॉरिटी को भेजा है। डॉक्टर प्रवीण देवगन को कल पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था। डॉक्टर प्रवीण देवगन ने 2018 में एक महिला वकील का ऑपरेशन किया था जिसकी मौत उनकी लापरवाही से हुई थी। शिकायत करता गोकुल चंद नेगी के मुताबिक, डॉक्टर ने 1 अक्टूबर 2018 को उनकी पत्नी को आल्टेक अस्पताल में भर्ती कराया जहां डॉक्टर प्रवीण देवगन ने उनका बच्चेदानी का ऑपरेशन किया। उसके बाद 2 तारीख को उनकी पत्नी की मौत हो गई जबकि उन्हें कहा गया था कि कोई रिस्क नहीं है।

2018 में लापरवाही के मामले में 2021 में दर्ज हुआ था केस

उसके बाद डॉक्टर ने फर्जी साइन करके रिपोर्ट भी दे दी। जिसके बाद एक मेडिकल बोर्ड का गठन किया गया। पाया गया कि मौत की वजह लापरवाही के कारण हुई थी। 7 मार्च 2021 को डॉक्टर के खिलाफ मामला दर्ज किया गया और दिसंबर 2023 को उनका लाइसेंस रद्द कर दिया गया। केस लगाने के 5 साल बाद कल डॉ. प्रवीण देवगन को गिरफ्तार कर लिया गया था और उन्हें ज्यूडिशियल कस्टडी में भेजा गया था।

लाइसेंस रद्द होने के बावजूद कर रहे थे प्रैक्टिस

शिकायतकर्ता गोकुल चांद नेगी ने बताया की डॉक्टर प्रवीण लाइसेंस रद्द होने के बावजूद प्रैक्टिस कर रहा था और ऑपरेशन कर रहा था। जिसके संबंध में सिविल सर्जन ऑफिस में आज शिकायत दी गई है। इसमें मांग की गई है की एक कमेटी बनाकर चेक किया जाए की लाइसेंस न होने के बावजूद डॉक्टर प्रवीण ने कितने ऑपरेशन किए और कितने लोगों की जिंदगी के साथ खिलवाड़ किया।

रिकॉर्ड किया जब्त

इस मामले में सहायक सिविल सर्जन डॉक्टर राजिंदर पाल कौर ने बताया कि उन्होंने आज अस्पताल का दौरा किया है और वहां का सारा रिकॉर्ड जब्त कर लिया है। उन्हें पता लगा है कि डॉक्टर प्रवीण ने लाइसेंस न होने के बावजूद प्रैक्टिस की। इसीलिए इस मामले में सारे रिकॉर्ड को हायर अथॉरिटी को भेजा जाएगा और इस पर एक्शन लिया जाएगा।

डॉक्टर प्रवीण ने कहा था की जमानत मिल गई

इस मामले में कल पुलिस द्वारा गिरफ्तार किए गए डॉक्टर प्रवीण देवगन ने मीडिया को जानकारी देते हुए कहा था कि उनके ऊपर लगे सभी आरोपों को निराधार साबित करते हुए माननीय न्यायालय ने मुझे जमानत दे दी है।

‘अमृतसर न्यूज़ अपडेटस” की व्हाट्सएप पर खबर पढ़ने के लिए ग्रुप ज्वाइन करें

https://chat.whatsapp.com/D2aYY6rRIcJI0zIJlCcgvG

‘अमृतसर न्यूज़ अपडेटस” की खबर पढ़ने के लिए ट्विटर हैंडल को फॉलो करें

https://twitter.com/AgencyRajan

आपके क्षेत्र में कोई जनसमस्या है तो हमें ईमेल के माध्यम से लिखित तौर पर, फोटो और वीडियो भेजें

rajan.agency28@gmail.com

About amritsar news

Check Also

चुनाव रिहर्सल केंद्रों व कर्मचारियों को जागरूक किया गया

अमृतसर,19 मई : जिला निर्वाचन पदाधिकारी-सह- डीसी  घनशाम थोरी, चेयरपर्सन स्वीप-सह-अपर उपायुक्त (शहरी विकास) निकास …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *