Breaking News

राही योजना के तहत अब ई-ऑटो पर सवा लाख रुपये की सब्सिडी मिलेगी :आरटीए

जीरो डाउन पेमेंट पर पुराना डीजल ऑटो देकर नया ई-ऑटो खरीदा जा सकता

अमृतसर,15 फरवरी (राजन): शहर की ट्रैफिक व्यवस्था को बेहतर बनाने और प्रदूषण मुक्त करने के लिएअमृतसर स्मार्ट सिटी के “राही”  परियोजना के तहत, शहर में सार्वजनिक परिवहन में सुधार और प्रदूषण को कम करने के लिए पुराने डीजल ऑटो को ई-ऑटो से बदलने के लिए अब 75 हजार रुपये के बजाय 1.25 लाख रुपये की सब्सिडी दी जा रही है।  गौरतलब है कि स्मार्ट सिटी मिशन के तहत सरकार द्वारा शहर में पुराने डीजल ऑटो को ई-ऑटो से बदलने की योजना शुरू की गई थी। जिसके अनुसार ऑटो रिक्शा चालकों को पहले 75 हजार रुपये की सब्सिडी और अब 1.25 लॉक रुपए सब्सिडी करके आसान दर पर कर्ज दिया जा रहा हैं।

सरकार ने सब्सिडी बढ़ाने की मांग की पूरी

आज आरटीओ  अमृतसर अर्शदीप सिंह ने रेलवे स्टेशन पर ऑटो यूनियन के प्रतिनिधियों से बात करते हुए कहा कि ऑटो रिक्शा यूनियनों और चालकों से बात करने के बाद पता चला कि पहले ऑटो रिक्शा चालकों की आवश्यकता थी. ई-ऑटो लेने के लिए उन्हें लगभग 50 हजार रुपये का डाउन पेमेंट करना पड़ता था, लेकिन उनकी आर्थिक स्थिति ऐसी नहीं है कि वे डाउन पेमेंट कर सकें। इसके अलावा ऑटो चालकों ने सब्सिडी बढ़ाने की भी मांग की। सरकार ने सभी बातों को ध्यान में रखते हुए अब सब्सिडी बढ़ा दी है और अब इसे अपफ्रंट मोड पर दिया जाएगा, ताकि ऑटो रिक्शा चालकों पर बोझ कम हो सके. उन्होंने कहा कि स्टेट बैंक के अलावा अन्य बैंकों को भी सरकारी योजना के तहत सूचीबद्ध किया गया है। उन्होंने कहा कि राही योजना का लाभ लेने के लिए इच्छुक चालक को अमृतसर ऑटो रिक्शा कॉरपोरेट सोसायटी का सदस्य होना जरूरी है। इसी तरह ई-ऑटो लेने के लिए जिस चालक के पास आधार कार्ड या वोटर कार्ड, ऑटो की आरसी, ड्राइविंग लाइसेंस और अमृतसर ऑटो रिक्शा कॉरपोरेट सोसाइटी की सदस्यता पर्ची होनी चाहिए। चालक इन दस्तावेजों के लिए सूचीबद्ध कंपनियों महिंद्रा और पियाजियो की डीलरशिप पर जाकर आवेदन कर सकता है।

गुरु नगर को बनाया जाएगा प्रदूषण मुक्त

अर्शदीप ने कहा कि परियोजना से शहर का वातावरण स्वच्छ होगा और ऑटो रिक्शा चालकों की आमदनी भी बढ़ेगी। क्योंकि मौजूदा समय में डीजल रेट पर ऑटो चलाने का खर्च 4 से 5 रुपये प्रति किमी और ई-ऑटो में लगभग 0.68 पैसे प्रति किमी है. हअर्शदीप सिंह ने कहा कि इलेक्ट्रिक ऑटो चलाकर गुरु की नगरी को प्रदूषण मुक्त बनाया जा सकता है। उन्होंने कहा कि यह योजना केवल अमृतसर वासियों के लिए है। उन्होंने ऑटो चालकों की समस्याएं सुनीं और मौके पर मौजूद यातायात पुलिस कर्मियों को उनकी समस्याओं के समाधान के निर्देश दिए। इस अवसर पर एसीपी ट्रैफिक राजेश कक्कड़, इंस्पेक्टर अनूप कुमार, स्मार्ट सिटी के अमन शर्मा, रेलवे स्टेशन ऑटो यूनियन के अध्यक्ष नरिंदर सिंह चौधरी सहित विभिन्न ऑटो यूनियनों के प्रतिनिधि उपस्थित थे।

‘अमृतसर न्यूज़ अपडेटस” की व्हाट्सएप पर खबर पढ़ने के लिए ग्रुप ज्वाइन करें

https://chat.whatsapp.com/D2aYY6rRIcJI0zIJlCcgvG

‘अमृतसर न्यूज़ अपडेटस” की खबर पढ़ने के लिए ट्विटर हैंडल को फॉलो करें

https://twitter.com/AgencyRajan

About amritsar news

Check Also

शहर को सुंदर और हरा-भरा बनाने के लिए सभी अधिकारी और कर्मचारी एक टीम के रूप में काम करें:धालीवाल

निगम अधिकारियों के साथ बैठक करते कैबिनेट मंत्री कुलदीप सिंह धालीवाल। अमृतसर, 20 जून (राजन): …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *