Breaking News

गलती से भारतीय सीमा में दाखिल  हुआ पाकिस्तानी नागरिक 15 महीने बाद वतन लोटा

अमृतसर,6 अप्रैल (राजन):अटारी वाघा बॉर्डर के रास्ते एक पाकिस्तानी को आज उसके वतन वापस भेजा गया। साल 2021 के दिसंबर महीने में गलती से भारतीय सीमा में दाखिल हुए पाक नागरिक जुलकर नैण को वापस उसके वतन भेज दिया गया है। उसे 7 महीने की सजा हुई थी, लेकिन कागजी कार्रवाई के चलते वह 15 महीने के बाद अपने परिवार से मिलने के लिए वापस गया।

मदरसे से भागा, गलती से सीमा में घुसा

जुलकर ने बताया कि वह पाकिस्तान में गांवजंडू कलां मंडी बहावल दीन का रहने वाला है । उसके पिता जदर इकबाली पेशे से डॉक्टर हैं। वह खुद 10वीं कक्षा में पढ़ता था। उस पर पढ़ाई का काफी कमजोर था। मदरसे में दिन में उसे 2 बार पढ़ना पड़ता था, जिससे परेशान होकर वह मदरसे से भाग गया। इस दौरान वह भारत-पाकिस्तान सरहद के पास टहल रहा था कि गलती से नारोवल से भारतीय सीमा में आ गया। बीएसएफ जवानों ने उसे पकड़ कर अजनाला कोर्ट में पेश किया, जहां उसका ट्रायल चला और उसे 7 महीने की सजा हुई थी। उसे अमृतसर की केंद्रीय जेल में भेज दिया गया। जुलकर ने बताया कि उसकी सजा 8 महीने पहले ही खत्म हो गई, लेकिन दोनों देशों के बीच कागजी कार्रवाई में देरी हुई, इसलिए वह 15 महीनों के बाद रिहा हो पाया है। जुलकर ने बताया कि वह काफी अधिक खुश है। 15 महीनों के बाद वह अपने परिवार से मिल पाएगा। 

‘अमृतसर न्यूज़ अपडेटस” की व्हाट्सएप पर खबर पढ़ने के लिए ग्रुप ज्वाइन करें

https://chat.whatsapp.com/D2aYY6rRIcJI0zIJlCcgvG

‘अमृतसर न्यूज़ अपडेटस” की खबर पढ़ने के लिए ट्विटर हैंडल को फॉलो करें

https://twitter.com/AgencyRajan

About amritsar news

Check Also

जमानत पर रोक के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट पहुंचे केजरीवाल

नई दिल्ली/ अमृतसर 23 जून :दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल जमानत को लेकर रविवार को …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *