Breaking News

लड़के को अगवा कर फिरौती वसूलने वाले गिरोह की गुत्थी को सुलझा पुलिस ने दो आरोपी पकड़े

अमृतसर 20 फरवरी (राजन):लड़के को अगवा कर फिरौती वसूलने वाले गिरोह की गुत्थी को थाना सदर की पुलिस ने
16 दिन बाद सुलझाया है। इसी बीच पुलिस ने अभी सिर्फ दो आरोपियों जसकरन खन्ना उर्फ काका निवासी हुकम सिंह रोड और अजय नेगी निवासी शरीफपुरा को पकड़ा है। इस गिरोह के 6 आरोपियों को पुलिस पकड़ने में लगी हुई है। घटना 2 फरवरी रात 11:30 बजे की नगीना एवेन्यू की है। 3 फरवरी को पुलिस को दर्ज करवाई शिकायत में शिवम सूद निवासी नगीना एवेन्यू ने बताया कि 2 फरवरी की रात को जब वह अपनी दुकान बंद अपने घर के बाहर पहुंचा तो गाड़ी खड़ी करते किनारे लगाते समय मोटरसाइकिल सवार युवक ने उसकी कार को टक्कर मार दी। जब वह उक्त युवक से बातचीत करने लगा तो पीछे से सिल्वर रंग की गाड़ी आई और उसमें से तीन अज्ञात युवक उतर उसकी मारपीट करते हुए जबरदस्ती में कार में बिठाकर अपने साथ कहीं अज्ञात जगह पर ले गए। उक्त लोगों ने उसका मुंह भी कपड़े से ढक दिया।

गिरोह के कुल 8 लोगों का हाथ

एसीपी नार्थ वरिंदर सिंह खोसा ने कहा कि पुलिस ने अलग-अलग पहलुओं से जांच करते हुए पता लगाया है कि फिरौती मांगने वाले गिरोह में कुल 8 लोगों का हाथ है और पुलिस ने 6 लोगों का पता लगा दो आरोपियों को काबू कर लिया है। जसकरन खन्ना उर्फ काका और दूसरा अजय नेगी निवासी शरीफपुरा है। बाकी चारों में पहला भुपिंदर लाडी है अौर इस पर पहले से धारा 307, एनडीपीएस एक्ट और आर्म एक्ट के मामले दर्ज है। दूसरा आरोपी साहिल लल्ली,
तीसरा केशव कन्न इस पर भी 307 का मुकदमा दर्ज है और चौथा आरोपी मयंक महाजन है। दो आरोपियों की पुलिस जांच कर रही है।

फिरौती मांगते समय किडनैपर खुद को बताने लगे लारेंस बिश्नोई के बंदे

पीड़ित ने कहा कि जब उक्त तीनों उसके मुंह पर कपड़ा डाल अज्ञात जगह लेकर चले गए तो किडनैपर उसे बोलने लगे की वह लारेंस बिश्नोई के बंदे है और हथियार दिखाकर उसे मारने की धमकियां देने लगे। शिवम से किडनैपर कहने लगे कि अपने पिता अनिल सूद को फोन करके बोले-मेरा दोस्त 10 लाख रुपए लेने आएगा उसे पैसे दे
देना। फोन करने के बाद किडनैपरों के दो साथी शिवम के घर स्कूटी पर पैसे लेकर फरार हो गए।पैसे मिलने के बाद कुछ समय में ही शिवम को बस स्टैंड अमृतसर के पास छोड़ कर फरार हो गए।

दोनों आरोपी पैसे मिलने के बाद दिल्ली में ऐश करने गए थे

पुलिस ने जिन दो आरोपियों को पकड़ा है उन दोनों को इस वारदात में से 55 हजार रुपए के करीब हिस्सा मिला था। दोनों आरोपी पैसे मिलने के बाद दिल्ली घूमने के लिए चले गए। वहां दोनों दो तीन दिन किसी होटल में रहे और ऐश करके फिर वापिस लौट आए। गुप्त सूचना के आधार पर दोनों को फिरौती वाली राशि से 16 हजार
नकदी सहित पकड़ लिया।

साहिल ने की रेकी

पीड़ित शिवम सूद की दो दुकानें और आरोपी साहिल दुग्गल उर्फ लाली निवासी शरीफपुरा उनकी दुकान पर पहले दो से तीन बार जा चुका है और साहिल ने फिर यह पता लगाया कि शिवम अपने घर रोजाना कितने पैसे लेकर जाता है। साहिल ने रैकी करने के बाद अपने 8 दोस्तों के साथ किडनैपिंग का प्लानबनाया और इस पूरी वारदात को अंजाम दिया।

‘अमृतसर न्यूज़ अपडेटस” की व्हाट्सएप पर खबर पढ़ने के लिए ग्रुप ज्वाइन करें

https://chat.whatsapp.com/D2aYY6rRIcJI0zIJlCcgvG

‘अमृतसर न्यूज़ अपडेटस” की खबर पढ़ने के लिए ट्विटर हैंडल को फॉलो करें

https://twitter.com/AgencyRajan

About amritsar news

Check Also

1 किलो आइस ड्रग जब्त, 3 तस्कर गिरफ्तार; पूछताछ जारी

अमृतसर, 20 जुलाई : पुलिस ने सीमा पार से हो रही नशे की तस्करी के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *