Breaking News

मेयर, निगम कमिश्नर ने एमटीपी विभाग के अधिकारियों के साथ मीटिंग करके दी सख्त चेतावनियां, पहले भी मीटिंग करके दे चुके चेतावनियां

कॉलोनियों से बकाया रेवेन्यू एकत्रित हो
अवैध निर्माणों की सूचियां करे जारी
अदालतों में पूरी तरह से रिकॉर्ड पेश पैरवाइया हो 

अवैध बनी बिल्डिंग पर कार्रवाई करके ही टीम वापस आए

एमटीपी विभाग के अधिकारियों के साथ मीटिंग करते हुए मेयर कर्मजीत सिंह रिंटू निगम कमिश्नर कोमल मित्तल, एडीशनल कमिश्नर संदीप रिशि

अमृतसर 5 नवंबर(राजन): मेयर  करमजीत सिंह रिंटू  और कमिश्नर कोमल मित्तल ने आज एमटीपी विभाग के सभी अधिकारियों के साथ बैठक करके सख्त चेतावनियां दी। उन्होंने कहा कि अधिकारी अपने अपने क्षेत्रों के अवैध निर्माणों की जल्द रिपोर्ट पेश करें। उन्होंने कहा कि पहले भी विभाग के अधिकारियों साथ मीटिंगे  करके चेतावनी दी जा चुकी हैं किंतु उस पर कोई अमल, असर दिखाई नहीं दे रहा है। शहर में अवैध निर्माण धड़ल्ले  से चल रहे हैं।  जिससे शहरवासियों के समक्ष नगर निगम की छवि धूमिल हो रही है। विशेषकर जब अवैध निर्माण गिराने के लिए जा रही अधिकारियों की टीम, ड्यूटी मजिस्ट्रेट तथा पुलिस बल के साथ होने पर भी टीम बिना कोई कार्रवाई किए बैरंग लौट रही है। बैठक के दौरान, मेयर ने जॉन वाइस एटीपी से  उनसे उनके क्षेत्र में चल रहे निर्माणों और अवैध निर्माणों के बारे में पूछा गया और उनके क्षेत्र में चल रहे  निर्माणों का विवरण मांगा गया।
मेयर करमजीत सिंह रिंटू ने  अधिकारियों को सख्त निर्देश देते हुए  कहा कि शहर में कई निर्माण बिना नक्शा पास कराए चल रहे थे लेकिन विभाग के अधिकारी आंखें मूंदे बैठे थे।  इससे लोगों पर हानिकारक प्रभाव पड़ रहा है।
मेयर  ने कहा कि अवैध निर्माणों के खिलाफ कानून के अनुसार समयबद्ध तरीके से कार्रवाई की जानी चाहिए और ऐसे मामलों में भी जिन्हें कानून के अनुसार कमान दी जा सकती है ताकि नगर निगम का राजस्व बढ़ सके। उन्होंने स्पष्ट तौर पर कहा कि जिन जिन अवैध निर्माणाधीन बिल्डगो के मालिकों ने खुद अवैध निर्माण गिराने के लिए कहा गया है उनकी टीम मौके पर जाकर जांच करें कि अवैध निर्माण हटाए गए हैं अगर नहीं हटाए गए तो खुद टीम ले जाकर कार्रवाई की जाए।

एमटीपी विभाग के अधिकारियों के साथ मीटिंग करते हुए मेयर कर्मजीत सिंह रिंटू निगम कमिश्नर कोमल मित्तल, एडीशनल कमिश्नर संदीप रिशि

कॉलोनियों से बकाया रेविन्यू  एकत्रित हो
मेयर रिंटू ने कहा कि शहर में दर्जनों ऐसी कॉलोनियां हैं जिन्होंने नगर निगम को मामूली सा रेविन्यू  दिया हुआ है तथा शेष जो किस्तों के रूप में दिया जाना था वह जमा नहीं करवाया है।  उनकी भी जांच की जाए जिन जिन  बकाया राशि लेनी है उस पर भी सख्त कार्रवाई करके रेविन्यू एकत्रित किया जाए। रेवेन्यू ना देने वाले के विरुद्ध   नियम कानून के साथ कार्रवाई की जाए।  मीटिंग में बड़ी-बड़ी कॉलोनियों के नाम लेकर अधिकारियो से सवाल भी किए गए। जिस पर अधिकारियों ने कहा कि कुछ कॉलोनाइजरो  द्वारा खुद ही रेविन्यू जमा करवा गया है। उनकी सूचियां तैयार की जाएंगी तथा जिनसे अभी बकाया किस्ते वसूल करनी है उन पर कार्रवाई की जाएगी।
अदालतों में पूरा पूरा रिकॉर्ड पेश कर पेरवाई  करें

मेयर रिंटू  ने कहा कि एमटीपी विभाग के कई मामले उच्चतम न्यायालय से लेकर निचली अदालतों मे विचाराधीन है। उन पर विभागीय अधिकारी पूरी तरह से लॉ  अफसर को रिकॉर्ड पेश करके पूरी पूरी  पेरवाई  करें. उन्होंने स्पष्ट तौर पर कहा कि पंजाब एंड हरियाणा हाई कोर्ट के रजिस्ट्रार को बिल्डिंग बाइलॉज का उल्लंघन करके बनी बिल्डिंगो की सूची पूरे पूरे रिकॉर्ड सहित बनाकर पेश की जाए।

लोगों से भी कि अपील

मेयर करमजीत सिंह ने शहर के लोगों से भी अपील की कि  कोई भी निर्माण योजना शुरू करने से पहले नक्शा जरूर मंजूर करवाए ।  उन्होंने कहा कि अब नक्शे पर एन.ओ.सी.  की  प्रक्रिया ऑनलाइन हो गई है, जिससे बहुत सारी परेशानी दूर हो गई है और अधिकारियों को अपनी ड्यूटी का अहसास करते हुए शहरवासियों को निर्देश देना चाहिए कि वे इस योजना को पारित करें और भवन का निर्माण शुरू करें।
इस अवसर पर एडीशनल कमिश्नर संदीप रिशि , लॉ  अधिकारी अमृतपाल सिंह, एमटीपी  नरिंदर शर्मा , एटीपी  संजीव देवगन, एटीपी  परमिंदरजीत सिंह, एटीपी  कृष्णा, एटीपी  वीरेंद्र मोहन, हेड ड्राफ्टमैन, बिल्डिंग इंस्पेक्टर आदि उपस्थित थे।

About amritsar news

Check Also

विधायक डॉ गुप्ता ने लोगों की समस्याए सुनकर अधिकारियों को लगाई फटकार: कहा लोगों की समस्याए हल करो

क्षेत्र का दौरा कर लोगों की समस्याएं सुनते हुए विधायक डॉ अजय गुप्ता। अमृतसर,17 जुलाई …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *