Breaking News

राही योजना के तहत  ई-ऑटो के प्रचार-प्रसार के लिए आयोजित रैली को निगम कमिश्नर ने हरी झंडी दिखाकर किया रवाना

अमृतसर, 17 मई (राजन): स्मार्ट सिटी सी ईओ कम नगर निगम कमिश्नर संदीप ऋषि और राही योजना के प्रभारी ज्वाइंट कमिश्नर  हरदीप सिंह ने राही योजना के तहत ई-ऑटो के प्रचार-प्रसार के लिए ई-ऑटो चालकों द्वारा आयोजित रैली का शुभारंभ रंजीत एवेन्यू डी. ब्लॉक से किया।यह रैली रंजीत एवेन्यू से निकाली गई, जो शहर के प्रमुख मार्गों रतन सिंह चौक, ट्रिलियम मॉल, 4एस चौक, हुसैनपुरा शरीफपुरा, बस स्टैंड, गोल्डन गेट, रेलवे स्टेशन, पुतलीघर, छेहरटा से होते हुए यह रैली इंडिया गेट पर समाप्त हुई। रैली में अमृतसर शहर में चल रहे ई-ऑटो के चालकों ने भाग लिया जो सफलतापूर्वक ई-ऑटो का उपयोग कर अपना जीवनयापन कर रहे हैं और शहर के पर्यावरण को स्वच्छ और प्रदूषण मुक्त रखने में प्रशासन का सहयोग कर रहे हैं।

डीजल ऑटो के चलने से शहर का वातावरण प्रदूषित होता

कमिश्नर ऋषि ने कहा कि ऐतिहासिक और धार्मिक स्थलों के दर्शन के लिए रोजाना लाखों की संख्या में तीर्थयात्री अमृतसर शहर आते हैं और किसी भी स्थान पर पहुंचने के लिए वे परिवहन के स्थानीय साधनों का इस्तेमाल करते हैं, जिसमें ऑटो की अहम भूमिका होती है. लेकिन जहां एक ओर डीजल ऑटो के चलने से शहर का वातावरण प्रदूषित होता है, वहीं हजारों की संख्या में अपंजीकृत, अनाधिकृत व बिना नंबर प्लेट के ई-रिक्शा चल रहे हैं जो शहर की जन सुरक्षा के लिए एक बड़ी चुनौती है।  इन सभी कमियों को दूर करने के लिए अमृतसर स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत राही योजना को लाया गया है, जिसके तहत सरकार ने परिवहन के प्रदूषण मुक्त साधनों को बढ़ावा देने के उद्देश्य से सड़कों पर ई-ऑटो लॉन्च किए हैं। जिसमें पुराने डीजल ऑटो को बदलकर ई-ऑटो अपनाने वाले चालकों को 1.40 लाख रुपये की नकद सब्सिडी दी जा रही है और बैंक इसके लिए आसान किस्तों पर लोन भी उपलब्ध करा रहे हैं। इस ई-ऑटो से जहां ईंधन की खपत का खर्च बचता है  वहां, सवार को ध्वनि रहित और प्रदूषण मुक्त यात्रा का आनंद मिलता है और उनके जीवन और संपत्ति की भी रक्षा होती है क्योंकि वे नियमित रूप से पंजीकृत होते हैं और नंबर प्लेट होते हैं, जबकि अधिकांश ई-रिक्शा न तो पंजीकृत होते हैं और न ही उन पर कोई नंबर होता है और  छोटा और हल्का वजन होने के कारण आए दिन हादसे होते रहते हैं। कमिश्नर ऋषि ने सभी डीजल ऑटो चालकों विशेषकर 15 वर्ष पुराने डीजल ऑटो चालकों से अपील की कि वे जल्द से जल्द अपने पुराने डीजल ऑटो को छोड़कर आधुनिक तकनीक से युक्त नए ई-ऑटो को अपनाएं और नकद सब्सिडी के साथ-साथ जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ उठाएं। क्योंकि निकट भविष्य में सरकार 15 साल पुराने डीजल ऑटो को पूरी तरह से बंद करने के फैसले को लागू कर सकती है. अत: अपनी आजीविका सुचारू रूप से चलाने के लिए ई-ऑटो के लिए पंजीकरण कराएं।

‘अमृतसर न्यूज़ अपडेटस” की व्हाट्सएप पर खबर पढ़ने के लिए ग्रुप ज्वाइन करें

https://chat.whatsapp.com/D2aYY6rRIcJI0zIJlCcgvG

‘अमृतसर न्यूज़ अपडेटस” की खबर पढ़ने के लिए ट्विटर हैंडल को फॉलो करें

https://twitter.com/AgencyRajan

About amritsar news

Check Also

एमटीपी विभाग ने की बड़ी कारवाइयां : साउथ और केंद्रीय जोन में गिराए अवैध निर्माण

अमृतसर,21 जून(राजन): नगर निगम कमिश्नर हरप्रीत सिंह के आदेशों के अनुसार एमटीपी विभाग ने आज …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *