Breaking News

लड़की को इंसाफ नहीं मिलने पर लड़की ने जिला प्रबंधकीय ब्लॉक की छत पर आत्महत्या करने किया प्रयास

अमृतसर,19 मार्च : कमिश्नर दफ्तर के बार-बार चक्कर लगाने पर भी एक लड़की को इंसाफ नहीं मिला तो वो जिला प्रबंधकीय ब्लॉक की छत पर आत्महत्या करने के लिए चढ़ गई। हालांकि उसे बचा लिया गया लेकिन वो रोते हुए इंसाफ की मांग करती रही। उसके साथ अमृतसर के एक युवक ने पहले रेप किया, फिर बंधक बनाया, फिर झूठी शादी की ओर अब डेढ़ महीने से वो इंसाफ के लिए सीपी दफ्तर में चक्कर लगा रही हैं। आज दोपहर को एक लड़की अचानक से एक महिला डिस्ट्रिक एडमिनिस्ट्रेशन ऑफिस की छत पर चढ़ गई और छलांग लगाने लगी। तभी पीछे से पहुंचे डीपीआरओ विभाग के कर्मचारी शिवा ने उसे पकड़ लिया और नीचे ले आए।महिला को सीपी दफ्तर में भेज दिया गया। जहां उसने कारण बताया।

सुसाइड से पहले बनाई वीडियो

लड़की ने आत्महत्या का प्रयास करने से पहले एक वीडियो भी बनाई जिसमें उसने आरोपी लड़के ओंकार सिंह, उसके दोस्त रूबल, अमृतसर के पुलिस और कमिश्नर गुरप्रीत सिंह भुल्लर को उसकी मौत का जिम्मेदार बताया।

इंस्टाग्राम पर हुई दोस्ती

मध्य प्रदेश निवासी मेघा ने बताया कि अमृतसर के सुंदर नगर, बटाला रोड निवासी ओंकार सिंह के साथ उसकी
इंस्टाग्राम पर दोस्ती हुई। उसके बाद उसने उसे इमोशनली ब्लैकमेल करके अमृतसर बुलवा लिया। यहां बुलाकर उसे एक होटल में रखा गया और उसके साथ रेप किया गया। उसकी न्यूड फोटोज खींची गई और फिर उसके वीडियो बनाई गई।उसके बाद इसका एक रूबल नाम का दोस्त भी आया जिसने बंदूक की नोक पर उसे धमकी दी की अगर किसी से बात की तो वो उसका इससे भी ज्यादा बुरा हाल करेंगे।जिसके बाद वो डर गई और तीन दिन बाद उसे उसके घर भेज दिया गया।

घर जाने के बाद फिर किया ब्लैकमेल

मेघा ने बताया की घर जाने के बाद से फिर से ओंकार सिंह उसे ब्लैकमेल करने लगा और उसकी वीडियो वायरल करने का कहना लगा। उसने उससे पैसों की भी मांग की। ओंकार सिंह उसे न्यूड वीडियो काल भी करने को बोलता था जिसमें उसके दोस्त भी शामिल होते थे। जिसके चलते वो काफी परेशान रहने लगी और उसके खिलाफ मामला दर्ज करवाने की धमकी दी। फिर ओंकार सिंह ने उसे ब्लॉक कर दिया। लेकिन वो डिप्रेशन में थी तो फिर उसने यहां आकर कंप्लेंट करने का फैसला लिया और वो तकरीबन दो महीने पहले अमृतसर आ गई। जहां उसने मोहकमपुरा थाने में शिकायत दर्ज करवाई।

थाने के फैसले पर करवाई जाती शादी

मेघा  ने बताया कि वो पर्चा दर्ज करवाने की मांग लेकर थाने में गई थी लेकिन वहां एसएचओ ने ओंकार सिंह के परिवार के साथ क्या बात की उसे नही पता ओर उसकी जबदस्ती गुरुद्वारा साहिब में शादी करवा दी गई। जहां उसके घरवाले भी अंदर नही आए। इस दौरान उसके दोस्त रूबल ने ही साइन किए और उसकी मर्जी के बिना उसकी शादी करवा दी गई। वहा पर उसकी गले की सोने की चैन भी ले ली गई और उसके पास 50 से 60000 रुपए थे वो भी ले लिए गए। 15 दिन तक मारा पीटा और बलात्कार किया।उसके बाद 15 दिन उसे अलग अलग होटलों में रखा गया। लडक़ी ने होटलों के नाम भी बताए हैं। उसके कहना कि इन 15 दिनों में उसके साथ बलात्कार किया गया और शारीरिक शोषण किया गया। वो उसके घरवालों को घर ले जाने को कहती लेकिन वो लेकर नहीं जाते। उसके बाद वो भाग गया।

पुलिस ने भी नहीं दिया साथ

मेघा  ने बताया कि जब वो नही आया तो वो बी डिवीजन थाने पहुंची जहां कंप्लेंट के लिए कहा लेकिन पुलिस ने उसके साथ नही दिया और लड़के वालो का ही साथ दिया। उसने लड़के के घरवालों से बात कि जिन्होंने उसे जाती सूचक शब्द.कहे क्योंकि वो वाल्मीकि समाज से है और उसके साथ नहीं दिया।

12 फरवरी से कमिश्नर दफ्तर में दी है शिकायत

मेघा  ने बताया की उसके बाद उसने 12 फरवरी को कमिश्नर दफ्तर में शिकायत दी लेकिन आज तक कोई कार्यवाई नही की गई। तब से वो हर एक दिन छोड़कर जहां आ रही है लेकिन कोई उसकी बात सुनने को तैयार नही है । नेहा ने बताया की उसने पहले भी यहां पर ही आत्महत्या का प्रयास किया था तब भी उसे बचा लिया गया। उसकी शिकायत को काउंसलिंग के लिए भेजा गया जहां एक महिला काउंसलर ने उस पर पैसे लेकर मामला खत्म करने का दबाव बनाया। लेकिन फिर भी आरोपियों पर मामला दर्ज नहीं किया गया। इस मामले में पुलिस की ओर से फिलहाल कोई बयान नहीं आया है।

‘अमृतसर न्यूज़ अपडेटस” की व्हाट्सएप पर खबर पढ़ने के लिए ग्रुप ज्वाइन करें

https://chat.whatsapp.com/D2aYY6rRIcJI0zIJlCcgvG

‘अमृतसर न्यूज़ अपडेटस” की खबर पढ़ने के लिए ट्विटर हैंडल को फॉलो करें

https://twitter.com/AgencyRajan

आपके क्षेत्र में कोई जनसमस्या है तो हमें ईमेल के माध्यम से लिखित तौर पर, फोटो और वीडियो भेजें

rajan.agency28@gmail.com

About amritsar news

Check Also

पुलिस ने अवैध पिस्तौल सहित एक को किया गिरफ्तार, अभियुक्त पर पहले से ही आर्म एक्ट और डकैती के केस दर्ज

अमृतसर,20 मई : एसीपी नार्थ वरिंदर सिंह खोसा ने बताया कि थाना सिविल लाइन की …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *