Breaking News

डॉ. अरूण शर्मा की सेवाओं को सच्चे कोरोना योद्धा के रूप में किया जाएगा हमेशा यादः मंत्री बलबीर सिद्धू

सिवल अस्पताल के एम.एम.ओ. डा. अरूण शर्मा को दी नम आखों से विदाई

नम आखों से डा. अरुण शर्मा को विदाई देते हुए मंत्री बलबीर सिंह सिद्धू साथ हैं सांसद गुरजीत सिंह औजला व अन्य।

अमृतसर, 30 अगस्त (राजन): सिवल अस्पताल अमृतसर के एम.एम.ओ. (सीनीयर मैडीकल अफससर) डॉ. अरूण शर्मा की आज सुबह कोरोना के चलते मौत हो गई थी, जिनका संस्कार आज सरकारी सम्मानों के साथ कर दिया गया। इस अवसर पर उनके संस्कार में स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री बलबीर सिंह सिद्धू उपस्थित हुए और पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह व विभाग की तरफ से उन्होने शोक व्यक्त किया।
इस अवसर पर मंत्री बलबीर सिद्धू ने कहा कि वह डा. अरूण शर्मा स्वास्थ्य विभाग के प्रतिभाशाली और मेहनती अधिकारियों में से एक थे और वह केवल 53 वर्ष के थे। मार्च महने में जब कोविड-19 महामारी का देश में प्रसार बढ रहा था तब उन्होने फ्रंट लाईन में खडे होकर अपनी ड्यूटी को अच्छे तरीके से निभाया। उनकी इन सेवाओं के लिए उन्हें एक सच्चे कोरोना योद्धा के रूप में हमेशा याद किया जाएगा। मंत्री बलबीर सिद्धू ने बताया कि डा. अरूण शर्मा ह्रदय रोग से ग्रस्त थे और कोरोना ने उनको जकड़ लिया। पंजाब सरकार की तरफ से उनके ईलाज के लिए हर संभव प्रयास किए गए। उनको अमृतसर से पीजीआई या मेदातां ट्रांसफर करने की कोशिश की जा रही थी परंतु इसी दौरान यह दुखद समाचार सुनने को मिल गया। वह अपने पीछे अपनी पत्नी, बेटी और बेटा छोड़ गए हैं। उन्होने डॉ. अरुण शर्मा के परिवार के प्रति अपनी गहरी संवेदनाएं व्यक्त की हैं। उन्होंने कहा कि यह नुकसान सिर्फ परिवार के लिए ही नहीं बल्कि राज्य के स्वास्थ्य विभाग के लिए भी है। विभाग हमेशा उनकी ईमानदार सेवाओं के लिए ऋणी रहेगा और शोकाग्रस्त परिवार के साथ खड़ा होगा।

डा. अरुण शर्मा के परिवार से संवेदनाए व्यक्त करते हुए मंत्री बलबीर सिंह सिद्धू व अन्य।

इस अवसर पर सांसद गुरजीत सिंह औजला, डाक्टरी शिक्षा और खोज मंत्री ओम प्रकाश सोनी, डिप्टी कमिश्नर गुरप्रीत सिंह खैहरा, पुलिस कमिश्नर डा. सुखचैन सिह गिल, निगम कमिश्नर कोमल मित्तल, एडीसी डा. हिमांशू अग्रवाल, सिवल सर्जन डा. नवदीप सिंह, प्रिंसीपल मैडीकल कालेज डा. राजीव देवगन, सीनीयर डिप्टी मेयर रमन बख्शी, एसडीएम शिवराज सिंह बल, एमसडीएम विकास हीरा व अन्यों द्वारा डा. अरूण शर्मा को भावभीनी श्रद्धांजलि भेंट की गई।
वर्णननीय है कि डा. अरूण शर्मा ने मेडिकल कॉलेज अमृतसर से एमडी ट्रांसफ्यूजन किया था और सीएचसी फतेहगढ़ चूड़िया में एसएमओ बने रहे इसके इलावा एक रक्त ट्रांसफ्यूजन के रूप में उन्होने ब्लड बैंक अमृतसर की स्थापना के लिए एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।

About amritsar news

Check Also

कांग्रेसी उम्मीदवार गुरजीत सिंह औजला की रैली दौरान चली गोली, एक युवक घायल

अमृतसर,18 मई :अजनाला में कांग्रेसी उम्मीदवार सांसद गुरजीत सिंह औजला की रैली में एक कार्यकर्ता …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *