Breaking News

 ‘एन आर आई  पंजाबियां नाल मिलनी’ कार्यक्रम में 90 प्रतिशत शिकायतकर्ता जमीनों के मसले को लेकर पहुंचे

मंत्री धालीवाल ने समस्याएं निपटाने के जारी किए दिशा निर्देश

समस्या को लेकर एन आर आई अपनी रजिस्ट्रेशन करवाते हुए।

अमृतसर,30 दिसंबर (राजन):पंजाब सरकार की तरफ से अमृतसर की गुरु नानक देव यूनिवर्सिटी में आयोजित ‘ एन आर आई  पंजाबियां नाल मिलनी’ कार्यक्रम में 90 प्रतिशतशिकायतकर्ता जमीनों के मसले को लेकर पहुंचे। मंत्री कुलदीप सिंह धालीवाल ने एन आर आई  की समस्याओं को सुन ऑन-स्पॉट अधिकारियों को दिशा निर्देश  जारी की।

समस्याएं हल करने के लिए जारी किया व्हाट्सएप नंबर

पत्रकारों से बातचीत करते हुए मंत्री कुलदीप सिंह धालीवाल।

एन आर आई मामलों के मंत्री कुलदीप सिंह धालीवाल ने बताया कि आज अमृतसर में ‘ एन आर आई पंजाबियां नाल मिलनी’ कार्यक्रम आयोजित किया जा रहा है। जहां अमृतसर, गुरदासपुर, पठानकोट और तरनतारन जिलों से संबंधित प्रवासी पंजाबियों केमामलों का निपटारा किया जाएगा। मंत्री धालीवाल ने कहा कि एन आर आई की समस्याएं हल करने के लिए व्हाट्सएप नंबर  9056009884 जारी कर दिया गया है। एन आर आई अपनी समस्याएं को हल करवाने के लिए  इस नंबर पर व्हाट्सएप भेज सकते हैं।

समस्याएं लेकर आए  एन आर आई  हल के इंतजार में

एन आर आई अपनी समस्याएं बताते हुए।

समस्याएं लेकर पहुंचे एन आर आई ने कहा कि यह कार्यक्रम अकाली दल व कांग्रेस सरकार भी आयोजित करती रही है, लेकिन समस्याओं का कभी हल नहीं हुआ। सुरजीत सिंह आहलूवालिया ने बताया कि वह डेनमार्क से हैं। वर्ष 2010 से उनके दादा की जमीन पर कब्जे का प्रयास हो रहा है। केस भी जीत गए, लेकिन ना तो कब्जा मिला और ऊपर से दोबारा उनकी जमीनों को लेकर केस कर दिया गया। आज तक उनकी समस्या का हल नहीं निकला। मलेशिया से पहुंची डॉ. इंद्रबीर ने बताया कि तरनतारन में उन्होंने प्रॉपर्टी खरीदी थी। उन्होंने उसकी पेमेंट भी कर दी। लेकिन आज तक ना तो प्रॉपर्टी उनके नाम की गई और ना ही पैसे लौटाए गए। उन्हें बार-बार पुलिस से मिलने आना पड़ता है, जो आसान नहीं है । वहीं, अमेरिका से पहुंची संदीप ने बताया कि उनकी शरीके के साथ तरनतारन में प्रॉपर्टी का केस चल रहा है। बार-बार नई दलीलें देकर केस को लटकाया जा रहा है, उन्हें जस्टिस नहीं मिला। इस कार्यक्रम का सुना तो वह अपनी समस्या लेकर पहुंचे हैं।

साल में दो बार होगी बैठकें

मंत्री धालीवाल का कहना है कि पंजाब सरकार एन आर आई पंजाबियों की सामाजिक, आर्थिक और सांस्कृतिक मामलों से संबंधित सभी समस्याओं को समयबद्ध तरीके से हल करने के लिए एक
विशेष नीति तैयार कर रही है। एन आर आई  पंजाबियों की समस्याओं को सुनने और उनका समाधान करने के लिए पंजाब सरकार हर साल दिसंबर और अप्रैल के महीने में दो बार इस तरह की बैठकें करेगी।

पंजाब में यह 5वीं बैठक

पंजाब में इस तरह की यह 5वीं बैठक हे । सरकार को मिलने वाली शिकायतों के बाद एन आर आई  पंजाबियों को उनके नजदीकी जिलों में जा कर मिलने का फैसला किया। इस अभियान के तहत 16 दिसंबर को जालंधर में 160 मामले, 19 दिसंबर को एसएएस नगर में 74 मामले, 23 दिसंबर को लुधियाना में 170 मामले और 26 दिसंबर को मोगा में 120 मामलों की सुनवाई की थी।

लौटाए गए एन आर आई के पैसे

पूर्व एन आर आई  सभा अध्यक्ष जसवीर सिंह गिल ने जालंधर में आयोजित कार्यक्रम के लिए प्रयोग किए गए फंड का विरोध किया था। उनका कहना था कि यह पहली बार है जब एन आर आई  सभा के खातों से पैसा लिया गया है। मंत्री धालीवाल ने कहा कि विरोध के बाद फंड से लिया गया 10 लाख का खर्च वापस लौटा दिया गया है। एन आर आई  सभा के चेयरमैन डीसी होते हैं और इसका प्रयोग भी एन आर आई की समस्याओं के लिए ही किया जा रहा था। लेकिन अब वह पैसा वापस कर दिया गया है।

‘अमृतसर न्यूज़ अपडेटस” की व्हाट्सएप पर खबर पढ़ने के लिए ग्रुप ज्वाइन करें

https://chat.whatsapp.com/D2aYY6rRIcJI0zIJlCcgvG

‘अमृतसर न्यूज़ अपडेटस” की खबर पढ़ने के लिए ट्विटर हैंडल को फॉलो करें

https://twitter.com/AgencyRajan

About amritsar news

Check Also

जालंधर उपचुनाव में AAP की जीत पर विधायक डॉ गुप्ता ने अपने समर्थनों के साथ खुशी मनाई, लड्डू बांटे

अमृतसर, 13 जुलाई: केंद्रीय विधानसभा क्षेत्र से विधायक डॉ अजय गुप्ता ने जालंधर उपचुनाव में …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *