Breaking News

नगर निगम की वित्त एंड ठेका कमेटी की मीटिंग में 30 करोड़ के विकास कार्यों को मिली मंजूरी

100 करोड़ के विकास कार्यों के लगेंगे टेंडर :मेयर रिंटू


अमृतसर, 22 फरवरी (राजन): नगर निगम की वित्त एंड ठेका कमेटी की मीटिंग मेयर करमजीत सिंह रिंटू की अध्यक्षता में हुई।मीटिंग में कमेटी सदस्य  निगम कमिश्नर कोमल मित्तल,सीनियर डिप्टी मेयर रमन बख्शी, डिप्टी मेयर यूनस कुमार, पार्षद गुरजीत कौर तथा निगम के अधिकारी शामिल हुए। मेयर रिंटू ने कहा कि मीटिंग में शहर के विकास के लिए 30 करोड़ों रुपयों के विकास कार्यों को मंजूरी दी गई है। उन्होंने कहा कि विगत 18 जनवरी को हुई वित्त एंड ठेका कमेटी की मीटिंग मे रखे गए 89 विकास के प्रस्तावों  को मंजूरी की पुष्टि तो कर दी गई थी किंतु नगर निगम चुनाव के मद्देनजर लागू हुई चुनाव आचार संहिता के कारण मुजूरी नहीं दे पाए थे।जिसे आज की मीटिंग में मुजूरी दे दी गई है। इसके अलावा आज की मीटिंग में रखे गए 20 प्रस्तावों को भी मंजूरी दे दी गई है। आज की बैठक में पेश किए गए विकास  कायों में से मुख्य रूप से गुरु तेग बहादुर की 400 वीं जयंती के अवसर पर, गुरु का महल में फसाड के काम को मंजूर किया
गया। शहर के विभिन्न क्षेत्रों  में पक्की सड़कों के अलावा , सड़कों पर सी.सी. फ्लोरिंग, इंटरलॉककग टाइलें , पुरानी सीवरेज लाइनों को बदलने, मैनहोल को कवर करने के निर्माण , नये ट्यूबवेलो और पानी की सप्लाई  लाइनें स्थापित करना शामिल  हैं।  उन्होंने कहा कि विकास कार्यों में सेविंग अधिक आने के कारण  कमेटी सदस्यों की सहमति से ठेकेदारों की 5% अधिक सिक्योरिटी राशि रखी जाएगी तथा अधिकारियों द्वारा सभी क्वालिटी डॉक्यूमेंट वेरीफाई किए जाएंगे। मेयर रिंटू ने कहा कि विकास कार्यों की क्वालिटी की जांच लगातार जारी रहेगी। विशेषकर सड़कों के निर्माण कार्यों के सैंपल की  भी मानता प्राप्त एजेंसी से जांच करवाई जाएगी।उन्होंने कहा कि सड़कों के निर्माण करवा रहे जहां जहां पर इंप्रूवमेंट ट्रस्ट, पीडब्ल्यूडी व अन्य एजेंसी द्वारा करवाएं जाने हैं, उनसे नगर निगम द्वारा एनओसी लेकर खुद नगर निगम ही करवाएगा।

क्वालिटी कंट्रोल कमेटी का होगा गठन
मेयर कर्मजीत सिंह रिंटू ने कहा कि विकास कार्यों की क्वालिटी कंट्रोल को लेकर कमेटी का गठन करने जा रहे हैं। जिसमें पार्षद तथा निगम अधिकारियों को सदस्य नियुक्त किया जाएगा। गठित की जाने वाली कमेटी विकास कार्यों की क्वालिटी की जांच करेगी ताकि लोगों द्वारा सरकार को दिए गए टैक्स के रूप में जो खर्च विकास कार्यों पर हो रहा है वह बर्बाद ना हो सके।
मेयर कर्मजीत रिंटू ने कहा कि 3 वर्ष के अपने कार्यकाल में लगभग 500 करोड़ रुपयों के विकास कार्य करवाए जा चुके हैं। आज 30 करोड रुपयों के विकास कार्यों को मंजूरी दी गई है तथा 31दिसंबर को हुई नगर निगम की जनरल हाउस  की मीटिंग में 100 करोड़ रुपयों के विकास कार्यों को मंजूरी दी गई थी। उन सभी विकास कार्यों के टेंडर लगने जा रहे हैं।
ब्याज व जुर्माना से बचने के लिए लोग टैक्स जमा करवाएं
मेयर रिंटू ने कहा कि शहर के विकास के लिए लोग व्याज व जुर्माना से बचकर अपना बनता टैक्स जमा करवाएं। उन्होंने कहा कि लोगों की भलाई के लिए नगर निगम द्वारा ना तो कोई टैक्स बढ़ाया है और ना ही कोई नया टैक्स का बोझ डाला गया है।

About amritsar news

Check Also

शहर को सुंदर और हरा-भरा बनाने के लिए सभी अधिकारी और कर्मचारी एक टीम के रूप में काम करें:धालीवाल

निगम अधिकारियों के साथ बैठक करते कैबिनेट मंत्री कुलदीप सिंह धालीवाल। अमृतसर, 20 जून (राजन): …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *