Breaking News

गुरू घर की सेवा में कोताही करने वाले किसी भी मुलाजिम को बख्शा नहीं जाएगाः भाई लोंगोवाल

  • शिरोमणि कमेटी की अंतरिग कमेटी के पावन सरूपों संबंधी जांच कमिशन की रिपोर्ट के आधार पर की मिसाली कारवाई

  • एस.एस. कोहली एंड एसोसिएशन की सेवाएं खत्म, कई उच्चाधिकारी और कर्मचारियों पर हुई कारवाई

श्री गुरू रामदास मैडीकल कालेज वल्ला में हुई एकत्रता की अध्यक्षता करते हुए शिरोमणि कमेटी के प्रधान भाई गोबिंद सिंह लोंगोवाल।

अमृतसर, 27 अगस्त (राजन): शिरोमणि गुरूद्वारा प्रबंधक कमेटी की अंतरिग कमेटी ने श्री गुरू ग्रंथ साहिब जी के पावन सरूपों संबंधी श्री अकाल तख्त साहिब के जत्थेदार ज्ञानी हरप्रीत सिंह द्वारा डा. ईशर सिंह एडवोकेट के नेतृत्व में बनाई गई जांच कमिशन की रिपोर्ट पर गंभीरता से विचार पश्चात रिपोर्ट में दोषी पाए गए शिरोमणि कमेटी के अधिकारियों, कर्मचारियों खिलाफ सख्त कारवाई की है। जत्थेदार श्री अकाल तख्त साहिब द्वारा जांच कमिशन की रिपोर्ट का भेजा गया सीलबंद लिफाफा भाई लोंगोवाल ने अंतरिग कमेटी के सामने खोला। शिरोमणि कमेटी के प्रधान भाई गोबिंद सिंह लोंगोवाल की अध्यक्षता में श्री गुरू रामदास मैडीकल कालेज वल्ला में हुई एकत्रता दौरान जत्थेदार ज्ञानी हरप्रीत सिंह, पड़तालिया जांच कमिशन के प्रमुख डा. ईशर सिंह एडवोकेट, कमेटी सदस्य बीबी हरप्रीत कौर एडवोकेट और बीबी हरलीन कौर सी.ए. का गहनता से जांच करने के लिए धन्यावाद किया गया और सर्वसमिति के साथ जांच रिपोर्ट प्रवान करते दोषियों खिलाफ सख्त कारवाई की गई। एकत्रता पश्चात शिरोमणि कमेटी प्रधान भाई गोबिंद सिंह लोंगोवाल ने प्रैस ब्यान में इस बात पर अफसोस जाहिर किया कि शिरोमणि कमेटी के पब्लीकेशन विभाग में काम करते कुछ अधिकारियों और कर्मचारियों ने निजी लालसा, बेईमानी और मिलीभुगत के साथ समूची संस्था और सिख कौम को बड़ी नामोशी के सामने किया, जिस कारण गहरी मानसिक पीड़ा में से निकलना पड़ा। उन्होने कहा कि मुझे इस बात का बेहद अफसोस है कि जिन अधिकारियों और कर्मचारियों को श्री गुरू ग्रंथ साहिब जी के पावन सरूपों की छपाई और बांटने की सेवा की बड़ी जिम्मेवारियां सौंपी गई, उन्होने इस जिम्मेवारी में बड़ी लापरवाहियां ही नहीं की बल्कि अमानत में ख्यानत की है। इसको किसी भी तरह माफ नहीं किया जा सकता।
भाई लोंगोवाल ने श्री अकाल तख्त साहिब पर जांच कमिश्न द्वारा पेश की रिपोर्ट पर की कारवाई के विवरण जारी करते हुए प्रगटावा किया कि सारे मामले जिसको श्री गुरू ग्रंथ साहिब जी के पावन सरूप गुम हो जाने का खदशा प्रगट किया गया था, असलीयत में कुछ बेईमान कर्मचारियों ने बार-बार रिकार्ड और लैजर में छेड़-छाड़, जायली रसीदें काटने, संगतों से पैसे लेकर अपनी जेबों में डालने और पकड़े जाने के बाद गलती स्वीकार करने की जगह अति गंभीर मामलो को गलत रंग में पेश करके अपने कुर्कमों पर पर्दा डालने की असफल कोशिस की, परंतु आज पूर्ण सच्चाई संगतों के सामने पेश है।
भाई लोंगोवाल ने कहा कि संस्था में किसी तरह की बेईमानी बर्दाशत नहीं की जाएगी और गुरू साहिबान और गुरू-घर की सेवा में कोताही करने वाले प्रत्येक व्यक्ति के खिलाफ सख्त कारवाई की जाएगी। उन्होने बताया कि अंतरिग कमेटी की एकत्रता में सर्वसम्मति के साथ जांच रिपोर्ट प्रवान करने के पश्चात सख्त फैसला लिया गया। जिस अनुसारः-
1.) कंवलजीत सिंह सी.जी.एल. सहायक सुपरवाईजर जोकि पहले सेवामुक्त हो चुका है, के फंड रिलीज करने पर रोक लगाई जाती है ताकि जो बनती रिकवरी की जा सके। उस पर रिकार्ड में हेराफेरी, खुर्द-बुर्द करने और धोखाधड़ी का फौजदारी पर्चा भी दर्ज करवाया जाएगा।
2.) बाज सिंह क्लर्क को तुरंत सर्विस से डिस्मिस किय जाता है और उसके खिलाफ कंवलजीत सिंह के साथ ही फौजदारी पर्चा दर्ज करवाया जाएगा।
3.) गुरबचन सिंह महासचिव को तुरंत सर्विस से डिस्मिस करते उस पर भी फौजदारी पर्चा दर्ज करवाया जाएगा।
4.) दलबीर सिंह हैल्पर को सर्विस से तुरंत डिस्मिस करते उस पर भी उपरोक्त तीनो समेत फौजदारी पर्चा दर्ज करवाया जाएगा।
5.) कुलवंत सिंह जिलदसाज और जसप्रीत सिंह जिलदसाज का जिल्दों का ठेका तुंरत रद्द किया जाता है और उनको ब्लैक लिस्ट किया जाता है।
6.) सतिंदर सिंह महासचिव फाईनांस कोत तुरंत सस्पैंड किया जाता है और आगामी विभागीय कारवाई की जाएगी।
7.) निशान सिंह महासचिव को तुरंत सस्पैंड किया जाता है और इस पर भी आगामी विभागीय कारवाई की जाएगी।
8.) मनजीत सिंह सचिव धर्म प्रचार कमेटी को तुरंत सस्पैंड किया जाता है और आगामी विभागीय कारवाई की जाएगी।
9.) डा. रूप सिंह मुख्य सचिव द्वारा पहले ही अपने पद से दिया अस्तीफा प्रवान किया जाता है।
10.) गुरमुख सिंह सुपरवाईजर पब्लीकेशन को तुरंत सस्पैंड किया जाता है और आगामी विभागीय कारवाई की जाएगी।
11.) हरचरन सिंह पूर्व मुख्य सचिव जो पद की जिम्मेवारियां निभाने में असमर्थ रहे का निचले कर्मचारियों द्वारा रिकार्ड में तोड़-मरोड़ करने बारे पता लगने के बावजूद कोई कारवाई ना करना मुलाजिमों के साथ मिलीभुगत का संकेत देता है। संस्था का मुख्य प्रशासक होने के कारण यह जिम्मेवार है और इस खिलाफ भी कानूनी कारवाई की जाएगी।
12.) सतिंदर सिंह कोहली चार्टड अकांऊटैंट एस.एस. कोहली एंड एसोसिएशन की सेवाएं तुरंत खत्म की जाती है और जांच कमिश्न द्वारा इस खिलाफ दी रिपोर्ट अनुसार इससे 75 फीसदी रिकवरी करने के लिए कानूनी कारवाई की जाएगी।
13.) जुझार सिंह सहायक अकाऊंटैंट को तुरंत सर्विस से डिस्मिस किया जाता है और कानूनी फौजदारी कारवाई की जाएगी।
14.) अमरजीत सिंह सेवादार अंगीठा साहिब गोइंदवाल साहिब की सेवाएं तुरंत खत्म की जाती है।
15.) परमजीत सिंह इंचार्ज को तुरंत सस्पैंड किया जाता है और आगामी विभागीय कारवाई की जाएगी।

इसके इलावा हरजिंदर सिंह धामी महासचिव के नेतृत्व में सब-कमेटी कायम की गई है जोकि कानूनी कारवाई को अमल में लाने का कार्य करेगी।
अंतरिग कमेटी में भाई गोबिंद सिंह लोंगोवाल के इलावा सीनीयर उपाध्यश्र रजिंदर सिंह मेहता, जूनियर उपाध्यक्ष गुरबख्श सिंह खालसा, महासचिव हरजिंदर सिंह धामी, अंतरिग सदस्य जगसीर सिंह मागेआणा, गुरपाल सिंह गोरा, भूपिंदर सिंह असंध, अमरजीत सिंह भलाईपुर, मंगविंदर सिंह खापड़खेड़ी, सुरजीत सिंह संग, शेर सिंह मंडवाला, कुलदीप कौर टौहड़ा, बीबी परमजीत कौर, सचिव महिंदर सिंह आहली, अतिरिक्त सचिव सुखदेव सिंह भूराकोहना, प्रताप सिंह, शिरोमणि कमेटी के प्रवक्ता कुलविंदर सिंह रमदास, दर्शन सिंह पी.ए. आदि मौजूद थे।

About amritsar news

Check Also

शिवरात्रि का पर्व शहर में पूरी धूम धाम से मनाया जा रहा

अमृतसर, 8 मार्च:महा-शिवरात्रि का पर्व शहर में पूरी धूम धाम से मनाया जा रहा है। …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *